Posts Tagged ‘ Fun ’

જીવનને સમજવા ની સમજદારી ખૂટે છે


જીવનને સમજવા ની સમજદારી ખૂટે છે,
જે તારુ નથી ઍ પામવા, કેમ તૂટે છે?

પરબ ની જન્ખના મા શુકામ રાચે તૂ?
ખોબો છે, ઍ પીજા ને!
તરશ તો તોય છીપે છે!

-દર્દિલ

Advertisements

ઍક બુંદ થી પલળીયો તો હું…


ઍક બુંદ થી પલળીયો તો હું...

पीठ पे जीतने घाव हे


पीठ पे जीतने घाव हे, उतनी जंग हम हार गए,
छाती पे जीतने जेले घाव, उतने दुश्मन परास्त हुए!

– दर्दिल

दुश्मन ज़माना सो गया


दुश्मन ज़माना सो गया, इश्क मे जीने वाले जाग गये,
ये प्यार वालो का मोहल्ल्ल हे यारो, नफ़रत वाले भाग गये!!!

-दर्दिल

जो नही आता उसकी का इंतेज़ार क्यूँ होता है


जो नही आता उसकी का इंतेज़ार क्यूँ होता है,
किसी और के लिए ये दिल क्यूँ बेकरार होता है.
वैसे तो इस दुनिया मे काफ़ी कुछ है प्यारा,
लेकिन जो नही मिलता उसी से प्यार क्यूँ होता है…!!

-PPP

वो इतने मघरूर हे


वो इतने मघरूर हे के!
महोब्बत उनसे करना हमारा कसूर हे!
समजते नही वो हाल-ए-दिल मेरा,
वो ना समझ हे, या हम बेवकूफ़ हे!!

दर्दिल

वन्दे मातरम


वन्दे मातरम – ઍજ બોલે છે જેને ભારત પર ગર્વ છે. બોલો वन्दे मातरम